• GoMP
  • स्पर्श अभियान पोर्टल
स्पर्श अभियान :सहायक नोडल अधिकारी एवं स्पर्श मित्र के कार्य
स्पर्श अभियान :सहायक नोडल अधिकारी एवं स्पर्श मित्र के कार्य
 
सहायक नोडल अधिकारी एवं स्पर्श मित्र के कार्य :
  • इस अभियान के सफलतापूर्वक संचालन के लिए स्पर्श मित्र की महत्वपूर्ण भूमिका होगी।
  • यह मित्र मानसिक मंदत्ता, मानसिक रूग्णता और 75 वर्ष आयु के ऐसे वृद्व जो कि अपना भरण-पोषण स्वयं नहीं कर सकते उनके परिवार में कोई ऐसा सदस्य पुत्र, पुत्री, भाई, नाती पोते आदि नहीं है उनको चिन्हित करते हुए उनका आवेदन पत्र भरेगा। आवेदन पत्र का प्रारूप (एनेक्सर-1) में दिया गया है।
  • स्पर्श मित्र एक पंजी भी संधारित करेगा, जिसमें व्यक्ति का नाम, पिता का नाम, जाति, आयू, लिंग, पता निःशक्तता का प्रकार एवं प्रतिशत का उल्लेख रहेगा, जिसका प्रारूप एनेक्सर-1 में दिया गया है। इस आधार पर जानकारी कम्प्यूटरीकृत की जावेगी।
  • मानसिक रूग्णता के हितग्राहियों को शिविर में एवं मानसिक चिकित्सालय तक ले जाने के लिए पुलिस/होमगार्ड के सहयोग से मेन्टल हेल्थ एक्ट 1987 के तहत न्यायालय से विशेष रिशेपशन आर्डर प्राप्त किया जावेगा।
  • इस पंजी के आधार पर इन व्यक्तियों को किस-किस तरह पुर्नवासित किया जा सकता है और क्या-क्या सुविधाएं उपलब्ध कराई जायेगी का उल्लेख किया जायेगा और यह सुविधाएं उनको उपलब्ध हुई अथवा नहीं इसकी पुष्टि सहायक नोडल अधिकारी द्वारा अभियान समाप्ति के 2 माह के भीतर की जायेगी। इसके लिए नियमित साप्ताहिक समीक्षा नोडल अधिकारी द्वारा की जायेगी तथा मासिक समीक्षा कलेक्टर द्वारा तब तक की जायेगी जब तक कि शत-प्रतिशत हितग्राही पुर्नवासित नहीं हो जाते।